वलन के प्रकार पर एक व्याख्यात्मक टिप्पणी लिखिए। | UPPSC 2020 Geography Optional

प्रश्न। 

वलन  के प्रकार पर एक व्याख्यात्मक टिप्पणी लिखिए। (UPPSC 2020)

उत्तर। 

मूल रूप से, अवसादी चट्टानें समतल क्षैतिज परतों (या चादरों) से बनती हैं। लेकिन कहीं-कहीं असमान दबाव या संकुचन बल के कारण पृथ्वी के अंदर चट्टान की परतें झुक जाती हैं और लहर( वेव ) के रूप में आकार ले लेती हैं, चट्टानों की परतों का झुकना भूगोल में वलन कहलाता है।

पृथ्वी की सतह पर तीन प्रकार की वलन निम्नलिखित हैं-

  • एंटीकलाइन
  • सिंकलाइन
  • मोनोकलाइन

वलन के प्रकार

एंटीकलाइन:

एंटीकलाइन एक प्रकार की वलन है जो नीचे की ओर अवतल होती है। यह एक वृत्त जैसी आकृति बनाता है।

उदाहरण,

  • डोम एंटीकलाइन वलन का एक उदाहरण है जो नीचे की ओर अवतल है।


सिंकलाइन:

एक सिंकलाइन एक प्रकार का वलन है जो ऊपर की ओर अवतल होता है। सिंकलाइन में गर्त (ट्रेंच ) जैसा पैटर्न होता है

उदाहरण के लिए, 

  • बेसिन एक गोलाकार वलन है जो ऊपर की ओर अवतल होती है।


मोनोकलाइन:

एक मोनोकलाइन एक प्रकार का वलन है जो सीढ़ीनुमा आकार बनाती हैं। 


You may like also:

Previous
Next Post »