चूना युक्त चट्टानों प्रदेशों में धरातलीय जल प्रवाह की अपेक्षा भौम जल प्रवाह अधिक पाया जाता है, क्यों ?

 प्रश्न। 

चूना युक्त चट्टानों प्रदेशों में धरातलीय जल प्रवाह की अपेक्षा भौम जल प्रवाह अधिक पाया जाता है, क्यों ?

उत्तर।

निम्नलिखित कारणों से चूना युक्त चट्टानों प्रदेशों में धरातलीय जल प्रवाह की तुलना में भौम जल प्रवाह अधिक सामान्य है:

  • चूना पत्थर के क्षेत्रों में, सतह की चट्टानें अत्यधिक पारगम्य, पतली बिस्तर वाली और दरार वाली होती हैं इसके कारण  धरातलीय जल आसानी से भूमिगत में रिस जाता है ।
  • चूना पत्थर की चट्टानें मुख्य रूप से कैल्शियम कार्बोनेट से बनी होती हैं जो पानी में घुलनशील होती है जिससे पानी इसमें से गुजर सकता है।
  • उपरोक्त दो कारणों  से धरातलीय जल आसानी से निचे चला जाता है और चूना पत्थर के क्षेत्रों में धरातल के अंदर कुछ गहराई पर कठोर चट्टानें होती है जो भौम जल प्रवाह को बहने में सहायता करती है। इसी  कारणों  से चूना युक्त चट्टानों प्रदेशों में धरातलीय जल प्रवाह की अपेक्षा भौम जल प्रवाह अधिक पाया जाता है।
You may like:

Previous
Next Post »