गैरिसन नगर क्या होते हैं ? उनका क्या प्रकार्य होता है ?

 प्रश्न। 

गैरिसन नगर क्या होते हैं ? उनका क्या प्रकार्य होता है ? 

( NCERT class 12, अध्याय 4: मानव बस्तियाँ , भारत लोग और अर्थव्यवस्था)

उत्तर। 

कई कस्बे और शहर कुछ विशेष कार्य करते हैं और वे अपनी विशेष गतिविधियों के लिए जाने जाते हैं। नगरों का प्रकार्यात्मक वर्गीकरण में , भारतीय शहरों को कई प्रकारों में वर्गीकृत किया जाता है, गैरीसन ( छावनी ) नगर एक ऐसा प्रकार है।

गैरीसन ( छावनी ) नगर एक ऐसा शहर है जिसे विशेष रूप से रक्षा उद्देश्यों के लिए बनाया जाता है।  गैरीसन नगर की उत्पत्ति ब्रिटिश काल के दौरान हुआ है। यह नौसेना या वायु सेना या सेना या सभी के रक्षा कर्मियों की किलेबंदी है।

गैरीसन ( छावनी ) नगर के मुख्य कार्य निम्नलिखित हैं:

  • यह शहर मुख्य रूप से रक्षा कर्मियों के साथ-साथ उनके रक्षा उपकरणों की बस्ती है।
  • यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बनाया जाता है।
  • यह रक्षा उपकरणों का रखरखाव करता है।
  • यह गैरीसन शहर के आसपास की गतिविधियों पर नज़र रखता और राष्ट्र की सुरक्षा के लिए तत्पर रहता है।

भारत के कुछ प्रमुख गैरीसन नगर है - अंबाला (हरियाणा), जालंधर (पंजाब), महू/डॉ. अम्बेडकर नगर (मध्य प्रदेश), झांसी में बबीना (उत्तर प्रदेश), रामगढ़ (झारखंड), आदि है।

You may like also:

Previous
Next Post »