नगरीय संकुलो/नगरों की राज्यानुसार सूची बनाये और नगरों के इस वर्ग के अंतर्गत राज्यानुसार जनसंख्या को देखें।

 प्रश्न। 

नगरीय संकुलो/नगरों की राज्यानुसार सूची बनाये और नगरों के इस वर्ग के अंतर्गत राज्यानुसार जनसंख्या को देखें।  

( NCERT class 12, अध्याय 4: मानव बस्तियाँ , भारत लोग और अर्थव्यवस्था)

उत्तर। 

अधिकांश भारतीय महानगर और मेगा नगर संकुलो/नगरों  की श्रेणी में आता हैं। संकुल नगर एक शहरी बस्ती है और यह निम्नलिखित तीन संयोजनों में से एक द्वारा बनती है:

  • एक नगर और उसके आसपास के नगरीय विस्तार। अधिकांश महानगरीय शहरी बस्तियाँ जैसे वाराणसी, और बैंगलोर इसी श्रेणी में हैं।
  • दो या दो से अधिक आस पास के नगर और उनके नगरीय विस्तार। उदाहरण के लिए, दुर्ग-भिलाई।
  • एक नगर और एक या एक से अधिक निकटवर्ती शहर और साथ में ही उनके नगरीय विस्तार क्षेत्र। मुंबई, दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई जैसे अधिकांश मेगासिटी इस श्रेणी में हैं।

2011 की जनगणना के अनुसार, 468 शहरों में से 53 शहर संकुल नगर समूह हैं। उनमे से छह शहरी समूह मेगा नगर हैं।

राज्यों के अनुसार नगर संकुलो/नगरों की सूचि निम्नलिखित हैं:

महाराष्ट्र:

  • महाराष्ट्र में 5 नगर/ नगरीय संकुल हैं।
  • 18.4 मिलियन लोगों के साथ मुंबई भारत का सबसे बड़ा शहरी समूह है। अन्य चार नगरीय संकुल हैं:
  • पुणे (5.05 मिलियन जनसंख्या)
  • नागपुर (2.50 मिलियन जनसंख्या)
  • नासिक (1.56 मिलियन जनसंख्या)
  • औरंगाबाद (1.19 मिलियन जनसंख्या)


केंद्र शासित प्रदेशों में नगरीय संकुल है :

  • श्रीनगर जम्मू और कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में लगभग 1.27 मिलियन आबादी वाला एक नगरीय संकुल है।
  • चंडीगढ़ (1.03 मिलियन) एक शहरी समूह भी है।नगरीय संकुल है।
  • दिल्ली (16.31 मिलियन) मुंबई के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा नगरीय संकुल है।

पंजाब:

  • लुधियाना (1.61 मिलियन) और अमृतसर (1.18) पंजाब के दो नगरीय संकुल हैं।

हरियाणा:

  • फरीदाबाद (1.41 मिलियन) हरियाणा में केवल एक नगरीय संकुल है।

राजस्थान:

  • जयपुर (3.08 मिलियन), जोधपुर (1.14 मिलियन), और कोटा (1.01 मिलियन) राजस्थान के तीन नगरीय संकुल हैं।

उत्तर प्रदेश:

  • उत्तर प्रदेश में 7 (सात) नगरीय संकुल हैं-कानपुर (2.92 मिलियन), लखनऊ (2.90 मिलियन), गाजियाबाद (2.36 मिलियन), आगरा (1.175 मिलियन), वाराणसी (1.44 मिलियन), मेरठ (1.43 मिलियन), इलाहाबाद (1.22 मिलियन)।

बिहार:

  • पटना (2.05 मिलियन) बिहार का एकमात्र नगरीय संकुल है।

पश्चिम बंगाल:

  • कोलकाता (14.12 मिलियन) और आसनसोल (1.24) पश्चिम बंगाल के दो नगरीय संकुल हैं।

झारखंड:

  • जमशेदपुर (1.34 मिलियन), धनबाद (1.20 मिलियन), और रांची (1.13 मिलियन) झारखंड के तीन नगरीय संकुल हैं।

छत्तीसगढ़:

  • रायपुर (1.13 मिलियन) और दुर्ग-भिलाई (1.07 मिलियन) छत्तीसगढ़ के दो नगरीय संकुल हैं।

मध्य प्रदेश:

  • इंदौर (2.17 मिलियन), भोपाल (1.89 मिलियन), जबलपुर (1.27 मिलियन), और ग्वालियर (1.11) मध्य प्रदेश के चार नगरीय संकुल हैं।

गुजरात:

  • अहमदाबाद (6.36 मिलियन), सूरत (4.59 मिलियन), वडोदरा (1.82 मिलियन), और राजकोट (1.40 मिलियन) गुजरात में चार नगरीय संकुल हैं।

तेलंगाना:

  • हैदराबाद (7.75 मिलियन)।

आंध्र प्रदेश:

  • ग्रेटर विशाखापत्तनम नगर निगम (जीवीएमसी) (1.73 मिलियन)
  • विजयवाड़ा (1.50 मिलियन)

कर्नाटक:

  • बेंगलुरु (8.50 मिलियन)

केरल:

केरल राज्य में सात नगरीय संकुल हैं।

  • कोच्चि (2.12 मिलियन)
  • कोझीकोड(2.03 मिलियन)
  • त्रिशूर (1.85 मिलियन)
  • मलप्पुरम (1.70 मिलियन)
  • तिरुवनंतपुरम (1.69 मिलियन)
  • कन्नूर (1.65 मिलियन)
  • कोल्लम (1.12 मिलियन)

तमिलनाडु:

तमिलनाडु राज्य में चार नगरीय संकुल हैं।

  • चेन्नई (8.70 मिलियन)
  • कोयंबटूर (2.16 मिलियन)
  • मदुरै (1.46 मिलियन)
  • तिरुचिरापल्ली(1.02 मिलियन)

You may like also:

Previous
Next Post »